जीवन जिने की कला

कैसे बताए अपने मन की बात

इस दुनिया में अगर आप को आपके मन की बात किसी को कहनी है तो आप क्या करेंगे जिससे आपने बोली हुई बात सब सुने? आपकी बात अगर आपको सब को मनवानी है तो उन्हें अनुभव कराए की आप क्या बोलना चाहते हो। अमेरिकन लेखक माया कहते है

जो कुछ आप बोलेंगे, या करेंगे लोग उसे भूल जाएंगे, परन्तु जो कुछ आप उन्हें अनुभव कराएँगे वे कभी नही भूल पाएंगे।
-माया आगलोन(अमेरिकन लेखक)

एक लड़के इंजीनियरिंग(स्टूडेंट) को कॉलेज में आधे में ही ब्रांच चेंज करनी है तो वो अपने माँ पिता को कैसे मनाएगा। अगर वो बोलेगा तो उसके माँ पिता रेडी भी होगे क्या? तो वो क्या करे जिससे उसके माँ पिता रेडी हो?
उत्तर है 👉फिलिंग(अनुभव)

सबसे पहले उसे उसके लाभ और दुर्लाभ समझाने पड़ेगे। और घरवालो को विश्वास दिलाना होगा की वो ब्रांच चेंज करके भी कवर कर सकता है। यह अनुभव उसे दिलाना पड़ेगा तब जाकर उसके माँ पिता रेडी होगे। शायद नहीं भी होगे पर अगर उसको चेंज करना है तो उसे अनुभव दिलाना पड़ेगा।

इस बात से समझ में आएगा अगर आपको कोनसी भी बात किसी से मनवानी है तो आपको अनुभव करवाना होगा की वह सही है और वह आप के लिए उचित है। इस बात को आप अप्लाई कर सकते है जहा जहा आपको आपकी बात मनवानी है। आपको वह अनुभव दिलाना होगा वह बात आपके लिए उचित है।

जीवन जीने की कला

Advertisements